Bhala Kisi Ki Mohabbat Mein Ghazal – Chhaya Ganguli, Shamim Jaipuri

Bhala Kisi Ki Mohabbat Mein(भला किसी की मोहब्बत में) is a beautiful Ghazal penned down by Shamim Jaipuri and it has been beautifully sung by Chhaya Ganguli. The music has been composed by Madhurani.

Bhala Kisi Ki Mohabbat Mein Ghazal - Chhaya Ganguli, Shamim Jaipuri

Ghazal – ‘Bhala Kisiki Mohabbat Mein Kya Liya Maine…’
Singer: Chhaya Ganguli
Music : Madhurani
Lyrics : Shamim Jaipuri

Bhala Kisi Ki Mohabbat Mein Ghazal

भला किसी की मोहब्बत में क्या लिया मैंने
के दोस्तों को भी दुश्मन बना लिया मैंने

तमाम उम्र की खुशियाँ उस अश्क पर कुर्बान
जो तेरी याद में छुप कर बहा दिया मैंने
के दोस्तों को भी दुश्मन बना लिया मैंने

भला किसी की मोहब्बत में क्या लिया मैंने
के दोस्तों को भी दुश्मन बना लिया मैंने

मैं खुद परस्त भला बंदगी को क्या जानू
जहाँ भी तुमने कहा सर झुका लिया मैंने
के दोस्तों को भी दुश्मन बना लिया मैंने

भला किसी की मोहब्बत में क्या लिया मैंने
के दोस्तों को भी दुश्मन बना लिया मैंने

शमीम उनसे निगाहें मिला ही आखिर
कि बिजलियों को नशेमन बना लिया मैंने
के दोस्तों को भी दुश्मन बना लिया मैंने

भला किसी की मोहब्बत में क्या लिया मैंने
के दोस्तों को भी दुश्मन बना लिया मैंने

Want More Like This?

Get Hindi and Punjabi Songs Lyrics, Poetry, Ghazals and Song Quotes directly in your MailBox

Latest Lyrics

You would love this!

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Get Songs Lyrics, Poetry, Ghazals and Song Quotes