Main Zinda Hoon Lyrics | Paltan

Main Zinda Hoon Lyrics | Paltan



Song – Main Zinda Hoon 
Singer – Sonu Nigam
Music – Anu Malik 
Lyrics – Javed Akhtar

Main Zinda Hoon Lyrics – Paltan

साथियों साथियों
आखिरी बार क्या कह रहा हूँ सुनो
हो सके तो सुनो…

मैंने अपने गर्म लहू से
वक़्त के बर्फीले कागज़ पर
एक पैगाम लिखा है
जिनके नाम लिखा है
उन तक पंहुचा देना…
उन तक पंहुचा देना…
मेरे मन की बात उन्हें तुम
बतला देना…

मैंने अपने गर्म लहू से
वक़्त के बर्फीले कागज़ पर
एक पैगाम लिखा है
एक पैगाम लिखा है ..

मेरी माँ से तुम ये कहना
बचपन से मुझसे तू ये कहा था
धरती माँ भी माँ होती है
मैंने आज इस धरती माँ की
लाज रखी है
मत रो माँ तू क्यों रोती है…
क्यों रोती है… X3

मैंने अपने गर्म लहू से
वक़्त के बर्फीले कागज़ पर
एक पैगाम लिखा है
एक पैगाम लिखा है ..

मेरे बाबा से तुम कहना
बचपन में मुझसे तुमने कहा था
ऐसा कुछ मत करना की मैं
शर्मिंदा हूँ
तुमने कहा था इतिहास हमसे कहता है
जो है बहादुर मर के भी जिंदा रहता है
बात  तुम्हारी मान ली मैंने
अपने वतन पर जान दी मैंने
देखो बाबा आज मैं मर के भी जिंदा हूँ

सौ करोड़ इंसानों के एहसास में मैं जिंदा हूँ
हिन्दुस्तान के मन में बसे विश्वास में मैं जिंदा हूँ
नौजवान चेहरे में मैं हूँ
सरहद पर पहरों में मैं हूँ
तुम मेरा कोई गम न करना
अपना गौरव कम न करना…
अपना गौरव कम न करना
अपना गौरव कम न करना…

मैं ज़िंदा हूँ…. X5

Main Zinda Hoon Lyrics – Paltan – English Font

Saathiyon Saathiyon
Aakhiri Baar kya kah raha hoon suno
Ho sake to suno…

Maine apne garm lahoo se
Waqt ke barfile kaagaz par
Ek paigam likha hai
Jinke naam likha hai
Un tak pahucha dena
Un tak pahucha dena…
Mere man ki baat unhe tum
Batla dena…

Maine apne garm lahoo se
Waqt ke barfile kaagaz par
Ek paigam likha hai..
Ek paigam likha hai…

Meri maa se tum ye kahna
Bachpan se mujhse tu ye kaha tha
Dharti maa bhi maa hoti hai
Maine aaj is dharti maa ki
Laaj rakhi hai
Mat ro maa tu kyu roti hai…
Kyu roti hai… X3

Maine apne garm lahoo se
Waqt ke barfile kaagaz par
Ek paigam likha hai..
Ek paigam likha hai…

Mere baba se tum kahna
Bachpan mein mujhse tumne kaha tha
Aisa kuch mat karna ki main
Sharminda hoon..
Tumne kaha tha itihaas humse kahta hai
Jo hai bahadur, mar ke bhi zinda rahta hai
Baat tumhari maan li maine
Apne watan par jaan di maine
Dekho baba aaj main mar ke bhi zinda hoon

Sau karod insaanon ke ehsaas mein main zinda hoon
Hindustan ke man mein base vishwas mein main zinda hoon
Naujawan chehre mein main hoon
Sarhad par pahro mein main hoon
Tum mera koi gam na karna
Apni palkon ko nam na karna
Apna gaurav kam na karna…
Apna gaurav kam na karna..

Main zinda hoon… X5

Want More Like This?

Get Hindi and Punjabi Songs Lyrics, Poetry, Ghazals and Song Quotes directly in your MailBox

Latest Lyrics

You would love this!

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Get Songs Lyrics, Poetry, Ghazals and Song Quotes