Rakshabandhan Special Songs Part 1 | रक्षाबंधन स्पेशल गाने

On the occasion of Rakshabandhan, We bring you some of the classics from the Bollywood movies.

rakshabandhan greetings rakhi ke gaane raksha bandhan songs bollywood

Songs in this part – Phoolon Ka Taaron ka, Bahna Ne Bhai Ki Kalai Par, Hum Bahno Ke Liye Mere Bhaiya, Rang Birangi Rakhi Lekar, Rakhi Dhaagon Ka Tyohar 

Song: Bhaiya Mere Rakhi Ke bandhan 
Lyricist : Shailendra, 
Singer : Lata Mangeshkar, 
Music Director : Shankar Jaikishan, 
Movie : Chhoti Bahen (1959)

भैय्या मेरे, राखी के बंधन की निभाना
भैय्या मेरे, छोटी बहन को ना भुलाना
देखो ये नाता निभाना
ये दिन, ये त्योहार ख़ुशी का
पावन जैसे नीर नदी का
भाई के उजले माथे पे
बहन लगाये मंगल टीका
झूमे ये सावन सुहाना
बाँध के हमने रेशम डोरी
तुमसे वो उम्मीद है जोड़ी
नाजुक है जो सांस के जैसी
पर जीवनभर जाये ना तोड़ी
जाने ये सारा ज़माना
शायद वो सावन भी आये
जो पहला का रंग ना लाये
बहन पराये देस बसी हो
अगर वो तुम तक पहुँच न पाये
याद का दीपक जलाना
——
Bhaiyya mere, raakhi ke bndhan ki nibhaana
Bhaiyya mere, chhoti bahan ko na bhulaana
Dekho ye naata nibhaana
Ye din, ye tyohaar khushi ka
Paawan jaise nir nadi ka
Bhaai ke ujale maathe pe
Bahan lagaaye mngal tika
Jhume ye saawan suhaana
Baandh ke hamane resham dori
Tumase wo ummid hai jodi
Naajuk hai jo saans ke jaisi
Par jiwanabhar jaaye na todi
Jaane ye saara zamaana
Shaayad wo saawan bhi aye
Jo pahala ka rng na laaye
Bahan paraaye des basi ho
Agar wo tum tak pahunch n paaye
Yaad ka dipak jalaana

Song: Mere Bhaiya, Mere Chanda 
Lyricist : Saahir Ludhiyanvi, 
Singer : Asha Bhosle, 
Music Director : Ravi, 
Movie : Kajal (1965)

मेरे भैय्या मेरे चंदा, मेरे अनमोल रतन
तेरे बदले मैं ज़माने की कोई चीज़ ना लूँ
तेरी साँसों की कसम ख़ाके हवा चलती है
तेरे चेहरे की झलक पाके बहार आती है
एक पल भी मेरी नज़रों से जो तू ओझल हो
हर तरफ मेरी नज़र तुझको पुकार आती है
तेरे चेहरे की महकती हुई लड़ियों के लिए
अनगिनत फूल उम्मीदों के चुने हैं मैने
वो भी दिन आये की उन ख्वाबो की ताबीर मिलें
तेरी खातिर  जो हसीन ख्वाब बुने हैं मैने
——
Mere bhaiyya mere chnda, mere anamol ratan
Tere badale main jmaane ki koi chij na lun
Teri saanson ki kasam khaake hawa chalati hai
Tere chehare ki jhalak paake bahaar ati hai
Ek pal bhi meri najron se jo tu ojhal ho
Har taraf meri najr tujhako pukaar ati hai
Tere chehare ki mahakati hui ladiyon ke lie
Anaginat ful ummidon ke chune hain maine
Wo bhi din aye ki un khwaabo ki taabir milen
Teri khaatir  jo hasin khwaab bune hain maine

Song: Ye Raakhi Bandhan Hai Aisa 
Lyricist : Rajendra Krishna, 
Singer : Lata Mangeshkar – Mukesh, 
Music Director : Shankar Jaikishan, 
Movie : Beimaan (1972)

ये राखी बंधन है ऐसा, ये राखी बंधन है ऐसा
जैसे चन्दा और किरण का
जैसे बदरी और पवन का
जैसे धरती और गगन का
ये राखी बंधन है ऐसा
दुनिया की जितनी बहनें हैं उन सबकी श्रद्धा इसमें है
है धरम करम भैया का ये, बहना की रक्षा इसमें है
जैसे सुभद्रा और कृष्ण का, जैसे बदरी और पवन का
छोटी बहना चूम के माथा भैया तुझे दुआ दे
सात जन्म की उम्र मेरी तुझको भगवान लगा दे
अमर प्यार है भाई बहन का, जैसे बदरी और पवन का
आज ख़ुशी के दिन भाई के भर भर आये नैना
कदर बहन की उनसे पूछो जिनकी नहीं है बहना
मोल नहीं कोई इस बंधन का, जैसे बदरी और पवन का
——-
Ye raakhi bndhan hai aisa, ye raakhi bndhan hai aisa
Jaise chanda aur kiran ka
Jaise badari aur pawan ka
Jaise dharati aur gagan ka
Ye raakhi bndhan hai aisa
Duniya ki jitani bahanen hain un sabaki shraddha isamen hai
Hai dharam karam bhaiya ka ye, bahana ki raksha isamen hai
Jaise subhadra aur krishn ka, jaise badari aur pawan ka
Chhoti bahana chum ke maatha bhaiya tujhe dua de
Saat janm ki umr meri tujhako bhagawaan laga de
Amar pyaar hai bhaai bahan ka, jaise badari aur pawan ka
Aj khushi ke din bhaai ke bhar bhar aye naina
Kadar bahan ki unase puchho jinaki nahin hai bahana
Mol nahin koi is bndhan ka, jaise badari aur pawan ka

Song: Isey Samjho Na resham ka
Movie: Tirangaa (1993)
Singers: Sadhana Sargam
Song Lyricists: Santosh Anand
Music: Laxmikant Pyarelal

Isse samjho na
Resham ka taar bhaiya
Meri raakhi matlab hain
Pyar bhaiya
Isse samjho na
Isse samjho na
Resham ka taar bhaiya
Isse samjho na
Resham ka taar bhaiya
Meri raakhi matlab hain
Pyar bhaiya
Meri raakhi matlab hain
Pyar bhaiya
Isse samjho na
Resham ka taar bhaiya
Meri raakhi matlab hain
Pyar bhaiya
Pyar bhaiya pyar bhaiya
Yun to duniya mein
Har sey ka mol hai
Yun to duniya mein
Har sey ka mol hai
Meri raakhi magar anmol hai
Ye na tulti hai
Ye na tulti hai
Daulat ke bhaar bhaiya
Meri raakhi matlab hain
Pyar bhaiya
Meri raakhi matlab hain
Pyar bhaiya
Pyar bhaiya pyar bhaiya
Teri bahena pe
Jab bhi koi mushkil pade
Oo teri bahena pe
Jab bhi koi mushkil pade
Aake mujh se mil jaana
Khade hi khade
Meri raakhi ki
Meri raakhi ki
Sun na pukaar bhaiya
Meri raakhi matlab hain
Pyar bhaiya
Meri raakhi matlab hain
Pyar bhaiya
Isse samjho na
Resham ka taar bhaiya
Isse samjho na
Resham ka taar bhaiya
Meri raakhi matlab hain
Pyar bhaiya
Meri raakhi matlab hain
Pyar bhaiya
Pyar bhaiya pyar bhaiya
Pyar bhaiya pyar bhaiya.



Song: Jhula Baahon Ka 
Movie: Doli Saja Ke Rakhna
Music Director: A. R. Rahman
Singer: Sadhana Sargam

झूला बाँहों का आज भी दो ना मुझे 
भैया गोद में उठाओ न आज मुझे 
कद से हूँ बड़ी मन से छोटी मैं आज भी मान लो ज़िद मेरी
झूला बाँहों का आज भी दो ना मुझे 
भैया गोद में उठाओ न आज मुझे 
कद से हूँ बड़ी मन से छोटी मैं आज भी मान लो ज़िद मेरी 
झूला झूला झूला झूला 
तू ख़ुशी तू क़रार तू बहार है 
दम से तेरे ही तो घर पे निखार है 
तू ख़ुशी तू क़रार तू बहार है 
दम से तेरे ही तो घर पे निखार है
मैं शोर शराबा धूम करूँगी ठुमक-ठुमक नाचूँगी 
चंचल कोयल के जैसे मैं तो चहक-चहक जाऊँगी 
सारे रंग धनक के मैं चुरा लूँगी 
हो सारे रंग धनक के मैं चुरा लूँगी
हो तारे फ़लक के तोड़ लाऊँगी 
छुप-छुप मेरी हँसी ना उड़ाना 
झूला बाँहों का आज भी
झूला झूला झूला झूला 
झूला बाँहों का आज भी दो ना मुझे 
भैया गोद में उठाओ न आज मुझे 
कद से हूँ बड़ी मन से छोटी मैं आज भी मान लो ज़िद मेरी 
झूला बाँहों का आज भी
तू ख़ुशी तू क़रार तू बहार है 
दम से तेरे ही तो घर पे निखार है
इक नहीं दो नहीं तीन हैं भाई 
तीनों जैसे मेरे सिपाही 
मेरी शरारत मेरी तबाही बचा ले ख़ुदा 
लेकिन इनका ग़ुस्सा ऐसा गड़गड़ गरजें बादल जैसा 
फिर बर्सायें प्यार भी वैसा ओ मेरे ख़ुदा 
मोती हूँ मैं इन आँखों का फूल हूँ इनके बाग का 
झूला बाँहों का आज भी दो ना मुझे 
भैया गोद में उठाओ न आज मुझे 
कद से हूँ बड़ी मन से छोटी मैं आज भी मान लो ज़िद मेरी 
झूला झूला झूला झूला
झूला बाँहों का आज भी दो ना मुझे 
भैया गोद में उठाओ न आज मुझे 
तू ख़ुशी तू क़रार तू बहार है 
दम से तेरे ही तो घर पे निखार है
झूला बाँहों का आज भी दो ना मुझे 
भैया गोद में उठाओ न आज मुझे 
कद से हूँ बड़ी मन से छोटी मैं आज भी मान लो
तू ख़ुशी तू क़रार तू बहार है 
रंग से तेरे ही तो घर पे निखार है 
झूला बाँहों का आज भी दो ना मुझे 
भैया गोद में उठाओ न आज मुझे 
कद से हूँ बड़ी मन से छोटी मैं आज भी मान लो ज़िद मेरी 
झूला झूला झूला झूला 
मैं शोर शराबा धूम करूँगी ठुमक-ठुमक नाचूँगी 
चंचल कोयल के जैसे मैं तो चहक-चहक जाऊँगी 
सारे रंग धनक के मैं चुरा लूँगी 
हो सारे रंग धनक के मैं चुरा लूँगी
हो तारे फ़लक के तोड़ लाऊँगी 
छुप-छुप मेरी हँसी ना उड़ाना
झूला बाँहों का आज भी
झूला झूला झूला झूला 
झूला बाँहों का आज भी दो ना मुझे 
भैया गोद में उठाओ न आज मुझे 
कद से हूँ बड़ी मन से छोटी मैं आज भी मान लो ज़िद मेरी 
झूला बाँहों का आज भी दो ना मुझे
तू ख़ुशी तू क़रार तू बहार है 
रंग से तेरे ही तो घर पे निखार है
इक नहीं दो नहीं तीन हैं भाई 
तीनों जैसे मेरे सिपाही 
मेरी शरारत मेरी तबाही बचा ले ख़ुदा 
लेकिन इनक गुस्स ऐसा गड़गड़ गरजें बादल जैसा 
फिर बर्सायें प्यार भी वैसा ओ मेरे ख़ुदा 
मोती हूँ मैं इन आँखों का फूल हूँ इनके बाग का
झूला बाँहों का आज भी दो ना मुझे 
भैया गोद में उठाओ न आज मुझे 
कद से हूँ बड़ी मन से छोटी मैं आज भी मान लो ज़िद मेरी 
झूला बाँहों का आज भी दो ना मुझे 
भैया गोद में उठाओ न आज मुझे 
तू ख़ुशी तू क़रार तू बहार है 
रंग से तेरे ही तो घर पे निखार है 
Jhula baho kaa aaj bhi do naa mujhe
Jhula baho kaa aaj bhi do naa mujhe
Bhaiya goud me uthao naa aaj mujhe
Kad sey hu badi mann sey chhoti main
Aaj bhi man lo naa jid meri
Jhula baho kaa aaj bhi do naa mujhe
Jhula baho kaa aaj bhi do naa mujhe
Bhaiya goud me uthao naa aaj mujhe
Kad sey hu badi mann sey chhoti main
Aaj bhi man lo naa jid meri
Jhula jhula…..
Jhula, jhula jhula
Too khushi toh karar toh bahar hai
Dam sey tere hi toh ghar peh nikhar hai
Too khushi toh karar toh bahar hai
Dam sey tere hi toh ghar peh nikhar hai
Mai shor sharaba dhum karungi,
Thumak thumak nachungi
Chanchal koyal ke jaise main toh
Chahek chahek jaungi
Sare rang dhanak ke mai chura lungi
Sare rang dhanak ke mai chura lungi
Ho o tare palak ke tod laungi………
Chup chup ke meri hansi naa udana
Jhula baho kaa aaj bhi, jhula jhula, jhula jhula…
Jhula baho kaa aaj bhi do naa mujhe
Bhaiya god me uthao naa aaj mujhe
Kad sey hu badi mann sey chhoti main
Aaj bhi man lo naa jid meri
Jhula baho kaa aaj bhi do naa mujhe
Too khushi toh karar toh bahar hai
Dam sey tere hi toh ghar peh nikhar hai…
Ek nahi, do nahi, tin hain bhai,
Tino jaise mere sipahi
Meri shararat meri tabahi bacha le khuda
Lekin inka gussa aisa,
Gad gad gadje badal jaisa
Phir barsaye pyar bhi waisa, o mere khuda
Moti hu mai inn aankho kaa
Phool hoon inke bag kaa
Jhula baho kaa aaj bhi do naa mujhe
Bhaiya goud mein uthao naa aaj mujhe
Kad sey hu badi mann sey chhoti main
Aaj bhi man lo naa jid meri
Jhula baho kaa aaj bhi do naa mujhe
Bhaiya goud me uthao naa aaj mujhe
Too khushi toh karar toh bahar hai
Dam sey tere hi toh ghar peh nikhar hai
Too khushi toh karar toh bahar hai
Dam sey tere hi toh ghar peh nikhar hai.

Want More Like This?

Get Hindi and Punjabi Songs Lyrics, Poetry, Ghazals and Song Quotes directly in your MailBox

Latest Posts!

You Might Like These!