Maa Tu Bata Lyrics – Tony Kakkar,Neha Kakkar | माँ तू बता लिरिक्स



इतनी फिकर क्यों करती है तू
इतना प्यार क्यों करती है
रात में जब तक घर नहीं आऊँ
तब तक क्यों जगती है
माँ ….तू नहीं होगी तो बता मेरी कौन करे परवाह
माँ … तू नहीं होगी तो बता मेरी कौन करे परवाह

दर्द मुझे होता है पर क्यों
आंसू तेरे आते है
चोट लगी क्यों नहीं बताया
इसी बात पे डाँटें है
मुझसे ही बस पूछे है
कभी अपना हाल सुना
माँ ….. तू नहीं होगी तो बता मेरी कौन करे परवाह

वक़्त नहीं देता हूँ तुझको
ये मेरी मजबूरी है
हक़ तेरा ही पहला है
फिर भी तुझसे ही दूरी है
दूर रहा हूँ तुझसे इतना
मुझको गले से लगा
माँ … माँ …तू नहीं होगी तो बता मेरी कौन करे परवाह

कम है वक्त ये मुझको पता है
इसीलिए डर लगता है
फासले क्यों उम्र के देखो ऊपर वाला रखता है
जब जाना हो दूर अकेले मुझको भी ले जा
माँ ….. तू नहीं होगी तो बता मेरी कौन करे परवाह

माँ … तू नहीं होगी तो बता मेरी कौन करे परवाह ….

X———————X



Itni fikar kyun karti hai tu
Itna pyar kyun karti hai
Raat main jab tak ghar nahin aau
Tab tak yun jagti hai


Maa tu nahi hogi toh bataa
Meri kaun kare parwah
Maa tu nahi hogi toh bataa
Meri kaun kare parwah


Dard mujhe hota hai par kyun
Aansu tere aate hai
Chot lagi kyun nahi bataya
Isi baat pe daante hai
Mujhse hi bas puchein hai kabhi
Apna haal suna,


Maa tu nahi hogi toh bataa
Meri kaun kare parwah
Maa tu nahi hogi toh bataa
Meri kaun kare parwah


Waqt nahi deta hun tujhko, yeh meri mazburi hai
Haq tera hi pehla hai, phir bhi tujhse hi doori hai
Door raha hoon tujhse kitna, mujhko gale se laga
Maa tu nahi hogi toh bataa, meri kaun kare parwah
Maa tu nahi hogi toh bataa, meri kaun kare parwah


Kam hai waqt yeh mujhko pata hai,
Isliye darr lagta hai, faslein kyun umar ke dekhon
Uparwala rakhta hai 


Jab jana ho door akele, mujhko bhi le jana
Maa tu nahi hogi toh bataa
Meri kaun kare parwah
Maa tu nahi hogi toh bataa
Meri kaun kare parwah

Want More Like This?

Get Hindi and Punjabi Songs Lyrics, Poetry, Ghazals and Song Quotes directly in your MailBox

Latest Lyrics

You would love this!

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Get Songs Lyrics, Poetry, Ghazals and Song Quotes